लोकप्रिय पोस्ट

मंगलवार, मार्च 31, 2015

भारत में




फलता-फूलता खूब साधू संतो का व्यापार भारत में 
क्यों कि फैला है अन्धविश्वास अपरम्पार भारत में 

कहीं मिलता कोई आसा तो कोई देता है बस झांसा
ऐसे करते हैं सभी अपना अपना कारोबार भारत में  

यूँ कहने को तो करोड़ों पैदा हो चुके हैं इस जमीन पे  
आड़े वक़्त मगर नहीं लेता है कोई अवतार भारत में 

गरीबों का हक़ मारकर के अमीरों की जेबें भरती है 
करती है काम गैर-सरकारी, यहाँ सरकार भारत में

कई मजलूम सड़ जाते है बेगुनाही साबित करते-२ 
कई हीरो बने रहते हैं उमर भर, गुनहगार भारत में  

हो जाए कोई हादसा तो कुछ ऐसे पेश आते हैं लोग 
मदद छोड़कर बनाते हैं वीडियो समझदार भारत में 

अजब चलन है 'राज', सच कहिये तो बुरा लगता है 
पूजते हैं पत्थर, करते इन्सां से दुर्व्यवहार भारत में 
KK

4 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत ही सुन्दर प्रस्तुति :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत सुन्दर सृजन, बधाई
    मेरे ब्लाग पर भी आप जैसे गुणीजनो क मार्गदर्श्न प्रार्थनीय है

    उत्तर देंहटाएं

Plz give your response....